विसुनपुरा: अमहर गांव के पचफ़ेड़ी टोला स्थित अवैध चिमनी ईंट भट्ठा ध्वस्त, अवैध कारोबारियों में हड़कंप

विशुनपुरा(गढ़वा)/राजु सिंह
विशुनपुरा थाना क्षेत्र अंतर्गत अमहर गांव के पचफ़ेड़ी टोला बाकी नदी स्थित अवैध रूप से संचालित चदरा चिमनी इट भट्ठा को खनन पदाधिकारी नन्ददेव बैठा और अंचलाधिकारी निधि रजवार ने ध्वस्त कर दिया।


मौके पर अंचलाधिकारी निधि रजवार ने बताया कि थाना क्षेत्र में अवैध ढंग से संचालित चिमनी इट भट्ठा के खिलाफ विशेष अभियान के दौरान यह कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया कि दो चदरा वाले इस चिमनी भट्ठा में भट्ठा मालिक के द्वारा आग लगाई गई थी। जिसे ध्वस्त किया गया है। थाना क्षेत्र में अवैध चिमनी भट्ठा को किसी भी परिस्थिति में चलने नहीं दिया जाएगा। इस अवैध कारोबार के जरिए सरकार को भारी राजस्व की क्षति पहुंचाई जा रही थी। इसी आलोक में चिमनी भट्टा को ध्वस्त किया गया है। उन्होंने बताया कि यह 501 मार्का चिमनी भट्ठा गढ़वा के सुनील कुमार मेहता पिता कृष्णा महतो का बताया जा रहा है।

Advertisement

अवैध रूप से संचालित 501 चिमनी भट्ठा को पदाधिकारी के द्वारा ध्वस्त कर दिया गया। भट्ठा स्थल पर लगभग 10 लाख इट भट्ठा मालिक के द्वारा स्टॉक कर रखा गया था। स्टॉक ईंट को जब्त कर कार्यवाई करने की बात पर खनन पदाधिकारी नन्ददेव बैठा ने कहा कि कोर्ट का चक्कर लगाना पड़ता है। इस लिए भट्ठा पर कानूनी कार्यवाई नही करेंगे। उन्होंने मौके पर अपनी बचाव करते हुए सीओ को कार्यवाई करने के लिए कहा है।
मालूम हो कि अमहर बाकी नदी स्थित संचालित चिमनी इट भट्ठा को 2 वर्ष पूर्व भी ध्वस्त किया गया था। इट भट्ठा ध्वस्त कर सभी इट को जब्त करते हुए संचालक के ऊपर प्राथमिकी दर्ज भी कराई गई थी, लेकिन इस बार भट्ठा मालिक पर कोई कार्यवाई नही किये जाने को लेकर खानापूर्ति किये जाने की चर्चा जोरों पर है

Advertisement

वही अंचलाधिकारी निधि रजवार के द्वारा एक के बाद एक बड़ी कार्यवाई से अवैध कारोबारियों में हड़कंप मच गई है। एक महीने पूर्व ही अंचलाधिकारी ने पिपरी कला बालू घाट से अवैध बालू उत्खनन कर रहे हैं सात ट्रैक्टर को पकड़ कर अवैध कारोबारियों की कमर तोड़ दी थी। इसके बावजूद भी अवैध कारोबारी बेखौफ होकर कारोबार करने में लगे हुए हैं।

खबर लिखे जाने तक इट भट्ठा एवम संचालक के ऊपर कोई कार्यवाई नही की गई है।

Advertisement

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

राशिफल

- Advertisement -spot_img

Latest Articles

error: Content is protected !!